Friday, July 7, 2017

Gurupurnima details In Gujarati PDF Very Useful For Schools And Students

Gurupurnima details In Gujarati PDF Very Useful For Schools And Students

गुजराती में माहिती की फ़ाइल डाऊनलोड करने हेतु निचे दी गई लिंक पर क्लिक करे...

आषाढ़ मास की पूर्णिमा को गुरु पूर्णिमा कहते हैं। इस दिन गुरु पूजा का विधान है। गुरु पूर्णिमा वर्षा ऋतु के आरम्भ में आती है। इस दिन से चार महीने तक परिव्राजक साधु-सन्त एक ही स्थान पर रहकर ज्ञान की गंगा बहाते हैं। ये चार महीने मौसम की दृष्टि से भी सर्वश्रेष्ठ होते हैं। न अधिक गर्मी और न अधिक सर्दी। इसलिए अध्ययन के लिए उपयुक्त माने गए हैं। जैसे सूर्य के ताप से तप्त भूमि को वर्षा से शीतलता एवं फसल पैदा करने की शक्ति मिलती है, वैसे ही गुरु-चरणों में उपस्थित साधकों को ज्ञान, शान्ति, भक्ति और योग शक्ति प्राप्त करने की शक्ति मिलती है।
यह दिन महाभारत के रचयिता कृष्ण द्वैपायन व्यास का जन्मदिन भी है। वे संस्कृत के प्रकांड विद्वान थे और उन्होंने चारों वेदों की भी रचना की थी। इस कारण उनका एक नाम वेद व्यास भी है। उन्हें आदिगुरु कहा जाता है और उनके सम्मान में गुरु पूर्णिमा को व्यास पूर्णिमा नाम से भी जाना जाता है। भक्तिकाल के संत घीसादास का भी जन्म इसी दिन हुआ था वे कबीरदास के शिष्य थे।

Share This
Previous Post
Next Post

Hello Friends ! Shikshanjagat Is website for Gujarati Competitve Exams Like GPSC,HTAT, Police,TET,CLerk,Bank etc...Preparation. On this site you will find lots of material for Exam Prepartion in Gujarati, Hindi And also in English. Keep Visiting This Site Daily to Improve your Knowledge.

0 comments: